Saturday, October 31, 2009

दिखने वाली शायरी प्यार के लिये (Visual Shayari Pyaar ke liye)

image005

6 comments:

  1. लोन कहां से मिले आजकल बडी बडी बैंके दिवालिया होगै हैं.:)

    रामराम.

    ReplyDelete
  2. जब मिल जाये तो बनबा लेना, लेकिन कही दिल्ली के आसपास ही बनवाना

    ReplyDelete
  3. bahut badhiya..........koi baat nhi lage raho kabhi to pas ho hi jayega.

    ReplyDelete
  4. अगर शाहजहां ने लोन लेकर ताजमहल बनाया होता तो आज इसमें या तो लोन देने वाले बैंक की ब्रांच खुली होती (बैंक के गुंडो के कब्जाने के बाद) या फिर मुमताज की मज़ार पर तख्ती लटकी होती जिस पर लिखा हो "My Banker is...."

    ReplyDelete
  5. क्यो भाई, भाभीजी को नाराज करने वाली बात करते हो?

    ReplyDelete
  6. Vivek ji krupya batlayen ki pyar loan pass hone ke baad karna padata hai ki pyar karne ke baad loan apply karna padta hai.....madad keejiyega hum is kshetra mein jara naye hain..

    ReplyDelete

आपकी बहुमूल्य टिप्पणी दीजिये

Followers

Network Blogs

Google+ Followers

UA-1515027-2